Kalam ki ek sooch

Just another weblog

14 Posts

9230 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 2238 postid : 60

एक साल बाद - बाबा रामदेव और बहोत कुछ

  • SocialTwist Tell-a-Friend

एक साल बाद मैं जागरण पे आ रहा हूँ. काफी दिन होगये. नये ब्लोग्स. नए लोग. बढ़िया है. फिर मैने एक ब्लॉग पढ़ा. जो की बाबा रामदेव पे था. लिखने वाले ने कोशिश अच्छी की थी. लेकिन अपने बाबा के प्रति नकारात्मक विचारों को जाहिर नहीं कर पाए. मैने ना बाबा रामदेव तरफ से हूँ न लेखक के तरफ से. लेकिन मेरी इस मसले पे अलग विचार हैं.
यह बात थो जग जाहिर है की बाबा ने मरे हुए योग को एक ब्रांड की तरह फिर से जीवित कर दिया. आज लगभग हर कोई अनुलोम विलोम कैसे करते हैं जनता जरूर है. इसके लिए थो उनकी सराहना जर्रोर करनी होगी. लेकिन हाँ.. बाबा के दवाइयों में कुछ आपतिजनक चीजें जरूर पाई गयी हैं. यह आरोप उनपे लगे हैं. की उनके दवाइयों में जानवरों के हड्डियाँ पाई गयी हैं. बाबा के सम्लान्गिगता के विचारो पे भी काफी बवाल हुआ था.
एक बार बाबा ने एड्स का इलाज भी सात अलग तरह के योग से बता दिया. इस पर इंडियन मेडिकल NGO s ने भी लोगों को गुमराह करने पर legal notice भेज दिया.
अंत में मुजे हिंदी फिल्म “सरकार” का एक संवाद याद आ रहा है. ” अगर लोग तुम्हारी बुराई कर रहे हों तब समझ लो तुम तर्रकी कर रही हो.

आभार ,
रूद्र

| NEXT

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (2 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

5 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Krisalyn के द्वारा
July 11, 2016

Wow, all of those entries are so relatlabe, my childhood is precious to me too, and it’s finally nice to see others not just throwing away their childhood games for newer, darker se18se&#i2r7;. I love Sonic, and I love my fellow TSS community.

कुमार सुरेश के द्वारा
January 4, 2011

भाई रुद्र, बाबा रामदेव वर्तमान के एक बहुत बढे ठग एवं घोटले बाज हैं वे योग के नाम पर कई हजार करोड के मालिक बन गए हैं योग तो भारत में प्राचिन काल से ही चल रहा है, जिस पंतजली के नाम पर वे इतना बडा साम्राज्य खडा किए हुए हैं क्या वे उनकी शिक्षाओं पर चल रहे है? क्या वे उनके बारे में कुछ जानते भी हैं।

    Graceland के द्वारा
    July 12, 2016

    Rich Menga / October 30, 2008Thanks for mentioning my name even though it states so right under the title of the article! Never can get anything by you!“As someone quite smart posted elsewhere..” Ah, nice jab there. And pointless.Someone truly smart would have not suggested to read the Wikipedia (as if that place is absolute truth). Wrong.. wrong.. wrong.Happy Halloween back at’cha! Don’t forget to suebrcisb!Reply

s.p.singh के द्वारा
January 3, 2011

भाई रूद्र एक सार बाद ही सही अपने कुछ लिखा तो पर वह भी रहस्यमयी तरीके से कृपया लेख और लेखक का नाम भी तो लिखें जिस पर आपने अपनी प्रतिक्रिया स्वरूप कुछ लिखा है, धन्यवाद

    rudra के द्वारा
    January 3, 2011

    भाई, लेखक का ब्लॉग, साल के टॉप १० बोलोग्स मैं है. अधूरी सुचना के लिए खेद है :) “बाबा रामदेव ..एक असलियत” (मिहिर राज)


topic of the week



latest from jagran